Sunday, 26 September 2010

राजस्थान में अब सत्ता और संगठन के भी अखबार

राजस्थान में संभवतः यह पहली बार हो रहा होगा जब सत्ताधारी दल में सत्ता और संगठन के शीर्ष नेताओं से जुड़े सिपहसालार एक साथ दैनिक अखबार शुरू कर रहे हैं। खास बात ये कि दोनों ही अखबारों के टाइटल (नाम) भी मिलते-जुलते हैं। मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत के नजदीकी माने जाने वाले श्री शिवचरण माली हालांकि काफी समय से लोकदशा समाचार पत्र का साप्ताहिक प्रकाशन करते रहे हैं। हाल के विधानसभा चुनाव में उन्होंने इस समाचार पत्र के माध्यम से गहलोत की काफी मदद भी की थी। गहलोत के शासन में आते ही लोकदशा को दैनिक समाचार पत्र के रूप में प्रकाशित करने की घोषणा कर दी गई। इतना ही नहीं इसके लिए संपादकीय विभाग में नियुक्तियां भी कर ली गई हैं। श्री शिवचरण माली पहले राजस्थान क्रिकेट एसोसिएशन के चुनाव में अध्यक्ष पद के दावेदार भी थे, लेकिन बाद में उन्होंने केन्द्रीय मंत्री और प्रदेश कांग्रेसाध्यक्ष डॉ। सी.पी. जोशी की खातिर गहलोत के कहने पर नामांकन वापस ले लिया था।
इधर, लोकदशा के प्रकाशन की तैयारियां चल ही रही थीं कि राजस्थान में ही सिरोही के बिल्डर श्री भवानी शंकर शर्मा ने लोक संपर्क नाम से दैनिक समाचार पत्र के प्रकाशन की घोषणा कर दी। इतना ही लोकसंपर्क की वेबसाइट भी लांच कर दी गई है। समाचार पत्र प्रकाशन के लिए संपादकीय विभाग में भर्तियां चल रही हैं। श्री भवानीशंकर शर्मा को केन्द्रीय मंत्री एवं प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डॉ। सी. पी. जोशी का काफी नजदीकी बताया जाता है। शर्मा ने इससे पहले भी मीडिया में आने की कोशिश की थी। अब देखना है कि राजस्थान के विकास और राजनीति में इन समाचार पत्रों की क्या भूमिका रहती है।

1 comment:

प्रमोदपाल सिंह मेघवाल said...

दैनिक समाचार पत्र ‘लोकदशा’ के शुभारम्भ पर हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं।
-प्रमोदपाल सिंह मेघवाल M.A.,M.J.M.C.
देसूरी (जिला-पाली)राजस्थान