Thursday, 26 February 2009

दो अधिकारियों को पदोन्नित

राज्य सरकार ने एक आदेश जारी कर भारतीय पुलिस सेवा के दो अफसरों को पदोन्नति दी है।मुख्यमंत्री की सुरक्षा में लगे डीआईजी सौरभ श्रीवास्तव और एसीआरबी के डीआईजी ए.पोन्नूचामी को अब आईजी बनाया गया है.

गर्ग और मंजीतसिंह को दिल्ली जाने की अनुमति

राज्य सरकार ने भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारी सुभाष गर्ग और मंजीतसिंह को दिल्ली जाने की अनुमति दे दी.मंजीतसिंह इस समय स्वायत्त शासन विभाग में सचिव और सुभाष गर्ग ब्यूरो ऑफ इंवेस्टमेंट प्रमोशन (बीआईपी) में आयुक्त पद पर कार्यरत हैं.

Wednesday, 25 February 2009

एडीएम से मारपीट

कोटा जिले के सांगोद में भाजपा के गुस्साए कार्यकर्ताओं ने अतिरिक्त जिला मजिस्ट्रेट (एडीएम) सोहनलाल शर्मा की पिटाई कर दी.उसके बाद हुए पथराव में पुलिस के एक डीएसपी और दो सिपाही भी जख्मी हो गए. भाजपा के ये कार्यकर्ता देहात महामंत्री लक्ष्मी नारायण नागर की हत्या और हत्यारों को नहीं पकड़ने से आक्रोशित थे.

प्रदेश में 138 तहसीलदारों के तबादले

राजस्व मंडल ने मंगलवार को एक आदेश जारी करके देर रात तहसीलदार सेवा के 138 अफसरों के तबादले कर दिए.तहसीलदार स्तर पर नई सरकार का यह पहला प्रशासनिक फेरबदल है. तबादला सूची राजस्व मंडल की वेबसइट पर उपलब्ध है.

वायुसेना का पायलट कार्यमुक्त

राज्यपाल के हवाई जहाज में बैठने के बाद उड़ान भरने को लेकर पायलटों में हुए आपसी विवाद मामले में राज्य सरकार ने वायु सेना के पायलट एस.के. नार्वी को तुरंत कार्यमुक्त करके पुनः वायुसेना में भेज दिया है।

Monday, 23 February 2009

पन्द्रह आईएएस के तबादले, अरोडा को एचसीएम रीपा का भी चार्ज

राज्य सरकार ने सोमवार देर रात एक आदेश जारी कर भारतीय प्रशासनिक सेवा के 15 और भारतीय पुलिस सेवा के 20 अफसरों के तबादले किए हैं.आईएएस में मुख्यमंत्री के सचिव रहे सुनील अरोड़ा को रीको चेयरमैन के साथ एचसीएम रीपी का प्रमुख शासन सचिव का भी दायित्व सौंपा गया है. अतुल कुमार गर्ग को पुनः आरएफसी का सीएमडी बनाया गया है, जबकि सलाउद्दीन अहमद को कृषि विभाग का प्रमुख सचिव बनाया गया है.दामोदर शर्मा अब जयपुर नगर निगम के सीईओ होंगे जबिक फायरिंग मामले में चूरू कलेक्टर पद से हटाए गए भास्कर ए.सावंत को माध्यमिक शिक्षा का बीकानेर में निदेशक बनाया गया है. इसी तरह आईपीएस वी.के.सिंह को पुनः जयपुर में सीआईडी सीबी का एसपी बनाया गया है.महतबासिहं को भीलवाड़ा एस.पी.लगाने के साथ ही हाल ही राज्य पुलिस सेवा से भारतीय पुलिस सेवा में पदोन्नत हुए छह अधिकारियों को भी एसपी की पहली पोस्टिंग दी गई है.दोनो ही तबादला सूचियां कार्मिक विभाग की वेबसाइट पर उपलब्ध हैं.

आरएएस प्रमोशन प्रकरण प्राथमिकता से निबटाएंगे

जयपुर. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने आरएएस अधिकारियों को भरोसा दिलाया है कि उनकी पदोन्नति के प्रकरणों को सरकार प्राथमिकता से निबटाने का प्रयास करेगी। जरूरत पड़ी तो सरकार सुप्रीम कोर्ट भी जाने को तैयार है। उन्होंने अफसरों से अपील की कि वे भी सरकार की मंशा के अनुरूप जवाबदेह और पारदर्शी शासन देने में सहयोग करें।
गहलोत ने रविवार को यहां राजस्थान प्रशासनिक सेवा परिषद के विशेष अधिवेशन में कहा कि आरएएस अफसरों की आईएएस में अब तक पदोन्नति नहीं होना दुर्भाग्यपूर्ण है, लेकिन इसके कारण भी सर्वविदित हैं। अधिकारियों को चाहिए कि वे आपस में बात करके कोई न कोई सर्वमान्य तरीका निकालें। यदि जरूरत पड़े और कोई सिस्टम तय होता हो तो सरकार सुप्रीम कोर्ट भी जाने को तैयार है।
मुख्य सचिव डी. सी. सामंत ने भी कहा कि पदोन्नत नहीं होने का मामला वाकई गंभीर है। अधिवेशन के प्रारंभ में आरएएस एसोसिएशन के अध्यक्ष यत्रमित्र सिंह देव ने अतिथियों का स्वागत किया। उन्होंने आरएएस अधिकारियों को आईएएस में तदर्थ पदोन्नति का सुझाव देते हुए 76 पदों पर पदोन्नति की मांग की।
कई अधिकारी सम्मानित
आरएएस एसोसिएशन के प्रवक्ता पवन अरोडा ने बताया कि राजस्व मंडल में चयन होने पर एन. के. जैन, रामबिलास परमार, जी. के. तिवाड़ी, कर बोर्ड में चयनित होने पर ओ. पी. सहारण, सेवानिवृत्त होने पर जेठमल व्यास, कालूराम विश्नोई, बृजमोहन शर्मा, विशेष उपलब्धि पर डॉ. मोहनलाल यादव, मनोज शर्मा और राजपालसिंह चौहान को सम्मानित भी किया गया।
आरएएस अफसरों की मांगें
आईएएस के 58 खाली पद शीघ्र भरे जाएं। इसके लिए तदर्थ पदोन्नति दी जा सकती है, कम से कम 6 जिलों में आरएएस अफसरों को कलेक्टर बनाया जाए, विभागाध्यक्षों के 15 पदों पर आरएएस को नियुक्तियां, पदोन्नति में 5, 10, 15 साल की टाइम स्केल लागू की जाए, न्यायिक फैसलों की समीक्षा करके अनावश्यक कार्यवाही न की जाए, कनिष्ठ अधिकारियों को भी सर्किट हाउस में ठहरने की अनुमति मिले, कैडर की समस्याएं दूर करने के लिए कार्मिक विभाग के स्तर पर मासिक बैठक हों।

Saturday, 21 February 2009

आरएएस अधिकारियों का अधिवेशन

राजस्थान प्रशासनिक सेवा के अधिकारियों का विशेष अधिवेशन रविवार 22 फरवरी को यहां हरिश्चंद्र माथुर लोक प्रशासन संस्थान में हो रहा है।मुख्यमंत्री अशोक गहलोत इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि रहेंगे.आरएएस इस अधिवेशन में आईएएस में प्रमोशन, सीनियर, सलेक्शन और सुपरटाइम स्केल में पदोन्नति की मांग भी रखेंगे.

Monday, 16 February 2009

बहुगुणा दिल्ली जाएंगे

राजस्थान में कृषि विभाग के प्रमुख शासन सचिव आशीष बहुगुणा प्रतिनियुक्ति पर दिल्ली जाएंगे.उनके दिल्ली जाने को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने मंजूरी दे दी है. इनके साथ ही आईएएस अधिकारी डॉ. मंजीतसिंह और सुभाष गर्ग ने भी दिल्ली में प्रतिनियुक्ति पर जाने की इजाजत मांगी है.गर्ग ने पिछली सरकार में भी दिल्ली जाने की इजाजत मांगी थी. लेकिन उन्हें इसकी अनुमति नहीं मिली थी.

Saturday, 14 February 2009

आरपीएस की तबादला सूची जल्द

राजस्थान पुलिस में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक स्तर के अफसरों की तबादला सूची जल्दी ही जारी होने की संभावना है.उम्मीद लगाई जा रही है कि यह सूची बुधवार तक ही जारी हो सकती है.

Saturday, 7 February 2009

चूरू के कलेक्टर-एस.पी.एपीओ

राज्य के चूरू जिले के राजगढ़ में शुक्रवार को हुई बसपा नेता की हत्या से उग्र भीड़ पर शनिवार को सिद्धमुख थाने के सामने हुई फायरिंग के मामले में सरकार ने चूरू के कलेक्टर भास्कर ए. सावंत और पुलिस अधीक्षक हिंगलाजदान को तुरंत प्रभाव से एपीओ कर दिया है.अब वहां सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के निदेशक कृष्णकांत पाठक को नया कलेक्टर लगाया गया है. इसी तरह बिपिन कुमार पांडेय को नया एस.पी.बनाया गया है.फायरिंग की इस घटना में दीवानसिंह छीपा की मृत्यु हो गई और सात लोग घायल हुए हैं.इस प्रकरण में पहले ही थानाधिकारी को लाइन हाजिर और चार सिपाहियों को निलंबित किया जा चुका है.

Friday, 6 February 2009

विनोद कपूर माथुर आयोग के सचिव

जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी एवं भू-जल विभाग के शासन सचिव श्री विनोद कपूर का तबादला शुक्रवार को जस्टिस माथुर आयोग में सचिव के पद पर कर दिया गया. यह आयोग भाजपा सरकार में हुए विभिन्न घोटालों की जांच करने के लिए बनाया गया है.आयोग में पूर्व मुख्य सचिव इन्द्रजीत खन्ना और भारतीय पुलिस सेवा के रिटायर्ड अधिकारी एच.एन.मीणा सदस्य हैं.

Thursday, 5 February 2009

आरएएस ने की पदोन्नति की मांग

राजस्थान प्रशासनिक सेवा परिषद (आरएएस) ने कार्मिक सचिव परविंदरसिंह पंवार से मिलकर जूनियर आरएएस अफसरों को नई नीति के तहत 10 साल की सेवा अवधि पूरी करने पर वरिष्ठ वेतन शृंखला में पदोन्नति देने की मांग की है.एसोसिएशन जल्दी ही मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को बुलाकर अभिनंदन करने पर विचार भी कर रही है.