Friday, 16 January 2009

पूरे घर के बदल डाले अफसर

राज्य सरकार द्वारा गुरूवार देर रात बडे प्रशासनिक फेरबदल की सूची पूरी तरह आशानुरूप रही. अतिरिक्त मुख्य सचिव, प्रमुख सचिव व सचिव स्तर के 36 अफसरों की तबादला सूची में पिछली सरकार में महत्वपूर्ण पदों पर रहे अफसरों को अपेक्षाकृत कम महत्व के पदों पर लगाया गया है वहीं पिछली कांग्रेस सरकार में अहम पदों पर रहे अघिकारी पुन: मुख्य धारा में लाए गए हैं.पिछली भाजपा सरकार में लगभग हाशिये पर रहे अतिरिक्त मुख्य सचिव राकेश हूजा को विकास आयुक्त जैसे महत्वपूर्ण पद पर लगाया गया है. प्रमुख गृह सचिव एस.एन.थानवी अपने महकमे में कायम रखे गए हैं लेकिन पंचायती राज विभाग में तीन साल से डटे रामलुभाया को जल संसाधन विभाग की महत्वपूर्ण जिम्मेदारी दी गई है. पिछली सरकार में वित्त, जेडीए एवं नगरीय विकास विभाग में रहे डी.बी.गुप्ता को देवस्थान जैसे कम महत्व के विभाग में भेजा गया है. इसी तरह पिछली सरकार में परिवहन व खान जैसे महकमे देखने वाले प्रमुख सचिव अशोक सिंघवी को प्रशासनिक सुधार के कम महत्व के विभाग में लगाया गया है. केन्द्र सरकार से प्रतिनियुक्ति से लौटे जी.एस.संधु को पुन: नगरीय विकास विभाग की जिम्मेदारी दी गई है. प्रतिनियुक्ति पर जाने से पूर्व वे जेडीए व नगरीय विकास विभाग में ही रहे थे. इसके अलावा अशोक जैन, अशोक शेखर, वी.एस.सिंह, मधुकर गुप्ता, मुकेश शर्मा, राजेश्वरसिंह, समीर सिंह चन्देल को भी अपेक्षाकृत कम महत्व के विभाग सौंपे गए हैं जबकि बी.एन.शर्मा, ओ.पी.सैनी, ललित कोठारी, निरंजन आर्य को महत्वपूर्ण जिम्मेदारी दी गई है. ऊर्जा विभाग के महत्व व पूर्व कार्यानुभव को मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव द्वितीय श्रीमत् पाण्डे को प्रमुख ऊर्जा सचिव का जिम्मा भी दिया गया है.

No comments: