Wednesday, 31 December 2008

दो आरएएस अफसरों के तबादले

राज्य सरकार ने बुधवार को एक आदेश जारी कर राजस्थान प्रशासनिक सेवा के दो अधिकारियों के तबादले किए हैं.इनमें डॉ. बंशीधर कुमावत को जेडीए से हटाकर संसदीय सचिव निर्मल कुमावत का निजी सचिव बनाया है. इसी तरह झालावाड़ में मनोहरथाना के उपखंड अधिकारी नवनीत कुमार को संसदीय सचिव नानालाल निनामा का निजी सचिव बनाया है. सरकार ने इससे पहले 28 दिसंबर को एक अन्य आदेश जारी करके अपना पहला प्रशासनिक फेरबदल करते हुए राजस्थान प्रशासनिक सेवा के 322 अफसरों के तबादले किए थे.अगले दिन इनमें एक अधिकारी महेन्द्र सोनी के आदेश को बदलते हुए उन्हें राजस्थान गो सेवा आयोग के सचिव के बजाय मुख्यमंत्री सचिवालय में उप सचिव लगाया था.

सत्रह जनसंपर्क अधिकारियों के तबादले

राज्य सरकार ने 31 दिसंबर को एक आदेश जारी करके 17 जन संपर्क अधिकारियों के तबादले किए हैं.इनमें रतन कुमार सांभरिया- सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग जयपुर, दिनेश माथुर-चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग(आईईसी)जयपुर,प्यारे मोहन त्रिपाठी समाचार शाखा मुख्यालय जयपुर में सहायक निदेशक,प्रमोद कुमार पारीक संपादक राजस्थान विकास पंचायतीराज विभाग जयपुर,विनोद शर्मा-राजस्थान सूचना केन्द्र मुंबई, राजकुमार पारीक-राजस्थान सूचना केन्द्र कोलकाता और ईश्वरदत्त माथुर को राजस्थान ग्रामीण रोजगार गारंटी परिषद् जयपुर में सलाहकार के पद पर लगाया गया है.इसी तरह बालमुकुन्द ओझा को सहायक निदेशक (विज्ञापन) मुख्यालय जयपुर,दिनेश सक्सैना को सहायक निदेशक प्रचार कृषि विश्वविद्यालय बीकानेर,रजनीकांत शर्मा को प्रतापगढ़, रामलाल वर्मा को राजसमंद में सूचना एवं जनसंपर्क अधिकारी के पद पर लगाया गया है. रजनीश शर्मा को सार्वजनिक निर्माण विभाग, रामप्रासद जाट को अजमेर विद्युत वितरण निगम अजमेर,प्रेमप्रकाश त्रिपाठी को राजस्थान विधानसभा, अरुण जोशी को सहायक निदेशक (पंजीयन) मुख्यालय में लगाया गया है. गोविंद पारीक को जनसंपर्क अधिकारी जयपुर और रामफूल गुर्जर को राजस्थान विकास पत्रिका में उप संपादक बनाया गया है.

छह पीआरओ पदोन्नत

राज्य सरकार ने 31 दिसंबर को आदेश जारी करके सूचना एवं जनसंपर्क सेवा के छह अधिकारियों को सहायक निदेशक के पद पर पदोन्नत किया है.इनमें विनोद कुमार शर्मा,दिनेश कुमार माथुर,राजकुमार पारीक, प्रमोद कुमार पारीक,प्यारे मोहन त्रिपाठी और रतन कुमार सांभरिया शामिल हैं.इन सभी अधिकारियों को राजस्थान पत्रकार परिषद की ओर से बधाई.

Thursday, 25 December 2008

डॉ.अमरसिंह राठौड़ फिर डीपीआर बने

राजस्थान सूचना एवं जन संपर्क विभाग के निदेशक पद से करीब सवा साल पहले स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति ले चुके डॉ. अमरसिंह राठौड़ को पनुः इसी पद पर संविदा के आधार पर दो साल के लिए मनोनीत किया गया है.हाल ही सत्ता संभालने के बाद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने राठौड़ की नियुक्ति के आदेश दिए. राठौड को पिछली सरकार में डीपीआर की ओर से प्रकाशित एक विवादास्पद लेख आईना की वजह से जाना पड़ा था. इस लेख में संघ को पोंगापंथी बताया गया था.विधानसभा चुनाव में राठौड़ ने गहलोत के साथ काम किया.इस वजह से उन्हें यह पद दिया गया है.

Sunday, 14 December 2008

गहलोत ने बदले नौ अफसर

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सत्ता संभालने के साथ ही ब्यूरोक्रेसी में बदलाव करते हुए भारतीय प्रशासनिक सेवा के 9 अफसरों को बदला है.इनमें टी.श्रीनिवासन को अपना प्रमुख सचिव बनाया है. जबकि पिछली बार उनके सचिव रह चुके श्रीमत पांडेय को पुनः मुख्यमंत्री का सचिव बनाया गया है. अब तक मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव का काम देख रहे सुनील अरोड़ा को रीको का अध्यक्ष बनाया गया है.अरोड़ा प्रथम पंक्ति के अफसर माने जाते हैं.जमीनी भ्रष्टाचार को मुद्दा बनाकर सत्ता में लौटे गहलोत ने संदेश देने के उद्देश्य से जयपुर विकास प्राधिकरण के आयुक्त अशोक जैन को तुरंत एपीओ कर दिया है.उनकी जगह बीडी कमिश्नर उमेश कुमार को जेडीए आय़ुक्त बनाया गया है.इसी तरह गहलोत के कार्यकाल में मुख्यमंत्री के निजी सचिव रह चुके सी.के.मैथ्यू को वित्त विभाग की जिम्मेदारी सौंपी गई है. वित्त विभाग में प्रमुख सचिव का काम देख रहे सुभाष गर्ग को राजस्थान उद्योग संवर्द्धन ब्यूरो का आयुक्त बनाया गया है.सूचना एवं जन संपर्क आय़ुक्त रोहित कुमार सिहं अब राजस्व मंडल अजमेर में सदस्य होंगे.मुख्यमंत्री कार्यालय के सचिव तन्मय कुमार को आपदा प्रबंधन एवं सूचना-प्रौद्योगिकी विभाग का सचिव बनाया गया है.

मुख्यमंत्री की सुरक्षा का जिम्मा श्रीवास्तव को

भारतीय पुलिस सेवा के वरिष्ठ अधिकारी सौरभ श्रीवास्तव को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अपनी सुरक्षा का जिम्मा सौंपा है.श्रीवास्तव को उप महानिरीक्षक सतर्कता एं सुरक्षा के पद पर लगाया गया है. वे अभी तक एंटी टेरेरिस्ट स्क्वार्ड में थे.