Tuesday, 30 September 2008

ए.के.पांडेय राज्य के निर्वाचन आयुक्त होंगे

भारतीय प्रशासनिक सेवा के 1973 बैच के वरिष्ठ अधिकारी ए.के. पांडेय को राज्य निर्वाचन आयोग में आयुक्त बनाया गया है.वे अभी अतिरिक्त मुख्य सचिव विकास के पद पर काम कर रहे थे.निर्वाचन आयुक्त का पद 26 दिसंबर, 2007 से खाली चल रहा था. पांडेय 31 दिसंबर 2009 को सेवानिवृत्त होने वाले थे. अब वे 65 साल की आयु अथवा पांच साल तक इस पद पर रहेंगे.

नौ आईएएस के तबादले

राज्य सरकार ने मंगलवार को एक आदेश जारी करके भारतीय प्रशासनिक सेवा के 9 अफसरों के तबादले किए हैं.इनमें समीरसिंह चंदेल को करीब 8 साल बाद अच्छी पोस्टिंग मिली है.उन्हें राजस्थान को ऑपरेटिव डेयरी फैडरेशन में प्रबंध निदेशक बनाया गया है.इससे पहले वे सचिव कर्मचारी कल्याण और उससे पहले बंद पड़ी जयपुर मेटल्स फैक्ट्री में सीएमडी थे.यह फैक्ट्री इन्ही के कार्यकाल में बंद हुई थी.गुर्जर आंदोलन में रणनीतिक भूमिका निभाने के लिए मुख्यमंत्री ने सूचना एवं जन संपर्क आयुक्त रोहित कुमार सिंह की सिफारिश पर यह तोहफा दिया है. राजस्व मंडल में अपने फैसलों को लेकर विवाद में आए एन.आर.यादव को अब मानवाधिकार आयोग में सचिव लगाया गया है. यादव के खिलाफ राजस्व मंडल की चेयरमैन कुशलसिंह ने जांच शुरू कराई थी. पूर्व खाद्य मंत्री डॉ.किरोड़ीलाल मीणा से पंगा मोल लेने वाले दौसा कलेक्टर राजेश यादव को अब कृषि विभाग में निदेशक लगाया गया है.किरोड़ीलाल मीणा को मंत्री पद पर रहते हुए शस्त्र नवीनीकरण मामले में नोटिस देने से यादव विवाद में आए थे.इससे पहले वे पाली कलेक्टर के रूप में भाजपा नेता को थप्पड़ मारने से विवाद में आए थे.संसदीय सचिव भवानीसिंह राजावत की नाराजगी की कीमत अभय कुमार को कोटा कलेक्टर से हटने के रूप में चुकानी पड़ी है.वे अब वित्त विभाग में शासन सचिव होंगे. अन्य अधिकारियों में अश्विनी भगत को कोटा कलेक्टर,सुबीर कुमार को टोंक कलेक्टर, विकास सीतारामजी भाले को बांसवाड़ा कलेक्टर, ओंकारसिंह को दौसा कलेक्टर और भानुप्रकाश एटूरू को जोधपुर विकास प्राधिकरण में आयुक्त लगाया गया है.इनमें सुबीर कुमार को पहले बॉर्डर पर जमीनें बिकने के मामले में हटाया गया था.

Monday, 29 September 2008

प्रतापगढ़ सीओ को हटाया

राज्य सरकार ने प्रतापगढ़ के पुलिस उपाधीक्षक मन्नोराम मीणा को वहां से हटा दिया है.मीणा के खिलाफ लोगों की काफी शिकायतें थीं.अब उन्हें जालोर में एससीएसटी सेल में उपाधीक्षक लगाया गया है.उनके स्थान पर अब नागौर की पुलिस उपाधीक्षक नरेन्द्र मीणा को प्रतापगढ़ भेजा गया है.

Saturday, 27 September 2008

आरएएस अफसरों में जबरदस्त असंतोष

राजस्थान प्रशासनिक सेवा के अधिकारियों में इन दिनों जबरदस्त असंतोष है.इसका कारण यह है कि भारतीय प्रशासनिक सेवा में उनके 13 साल से प्रमोशन नहीं हुए हैं.हालांकि ये प्रमोशन आरएएस अफसरों की ही आपसी लड़ाई और मुकदमेबाजी के कारण नहीं हो पाए हैं.लेकिन इन अधिकारियों का तर्क है कि सरकार प्रभावित होने वाले अधिकारियों के लिए पद सुरक्षित रखकर भी तो पदोन्नति दे सकती है.यदि इसमें भी परेशानी है तो सुपर टाइम स्केल के आरएएस अफसरों को छोटे जिलों में कलेक्टर लगाने के साथ ही कुछ महकमों में विभागाध्यक्ष भी लगा सकती है.भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस) में उनके 53 पद खाली पड़े हैं. इन पदों को भरने के लिए सरकार दूसरे राज्यों के आईएएस अफसरों को प्रतिनियुक्ति पर लाने की तैयारी कर रही है.आरएएस अधिकारी तो यहां तक कह रहे हैं कि इस सरकार ने राजस्थान को बाहरी व्यक्तियों के लिए चारागाह बनाकर रख दिया है.

राजस्थान में बड़े प्रशासनिक फेरबदल की तैयारी

चुनाव आचार संहिता लगने से पहले राजस्थान सरकार ने बड़े स्तर पर प्रशासनिक फेरबदल करने की तैयारी कर ली है.आचार संहिता 5 अक्टूबर को लगने की संभवाना है.इससे पहले भारतीय प्रशासनिक सेवा,भारतीय पुलिस सेवा,राजस्थान प्रशासनिक सेवा और राजस्थान पुलिस सेवा के अधिकारियों के तबादले किए जा सकते हैं.इनमें राजस्थान प्रशासनिक सेवा के अधिकारियों की तबादला सूची लंबी हो सकती है.

Friday, 26 September 2008

राजस्थान में चार आईपीएस डीजी बनेंगे

राज्य सरकार ने भारतीय पुलिस सेवा में 1977 बैच के चार अधिकारियों को महानिदेशक बनाने का फैसला किया है.मुख्य सचिव डी.सी.सामंत की अध्यक्षता में शुक्रवार को हुई बैठक में इन अधिकारियों की स्क्रीनिंग कर ली गई. ये अफसर हैं ओमेन्द्र भारद्वाज, एम.के. देवराजन, बी.एस. चौहान और कन्हैयालाल. ये सभी अधिकारी अभी अतिरिक्त महानिदेशक के पद पर लगे हुए हैं.इनमें ओमेन्द्र भारद्वाज ने पिछले दिनों गुर्जर आंदोलन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी.

Thursday, 25 September 2008

आईएफएस को चार्जशीट देने की तैयारी

सेन्ट्रल एम्पार्वर्ड कमेटी के आदेश के बावजूद प्रदेश में अवैध आरा मशीनों को बंद कराने के बजाय उन्हें लाइसेंस देने के मामले में राज्य सरकार ने भारतीय वन सेवा के अधिकारी अम्बरीशचंद्र चौबे और राज्य वन सेवा के अधिकारी हंसराज को चार्जशीट देने की तैयारी कर ली है.इन अधिकारियों के खिलाफ भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो ने पिछले दिनों मामला दर्ज किया था.ब्यूरो इन अफसरों पर मुकदमा चलाने के लिए सरकार से अभियोजन स्वीकृति मांग रहा था. सरकार ने अभियोजन स्वीकृति देने के बजाय इन पर अनुशासनात्मक कार्रवाई करने का फैसला किया है.चौबे अभी एक अन्य मामले में निलंबित चल रहे हैं.

Wednesday, 24 September 2008

आरएएस एसोसिएशन में विवाद, अध्यक्ष को हटाया

राजस्थान प्रशासनिक सेवा परिषद में अधिवेशन बुलाने की बात पर विवाद गहरा गया है. मंगलवार को अध्यक्ष पीपी बिडियासर ने महासचिव यज्ञमित्रसिंहदेव और उपाध्यक्ष वी.पी.सिहं को पद से हटाया था. बुधवार को इन अफसरों ने अपने स्तर पर कार्यकारिणी की बैठक बुलाकर बिडियासर को अध्यक्ष पद से हटा दिया.इन अफसरों का आरोप है कि बिडियासर आईएएस नहीं बन पाने के कारण अब इसी पद पर चिपके रहना चाहते हैं.वे तीन साल से इस पद पर बने हुए हैं.

परिवहन आयुक्त और अतिरिक्त आयुक्त में ठनी

परिवहन विभाग में कुछ बाबुओं को प्रशिक्षण के लिए रिलीव नहीं करने को लेकर परिवहन आयुक्त जे.सी. मोहंति और अतिरिक्त आय़ुक्त दिनेश यादव में ठन गई है.मोहंति और विभगीय मंत्री ने इन बाबुओं को रिलीव करने के आदेश एक सप्ताह पहले कर दिए थे,लेकिन यादव फाइल को रोककर बैठे हैं.

बीस आरपीएस अफसर पदोन्नत, 4 की बदली

राज्य सरकार ने बुधवार को एक आदेश जारी कर राजस्थान पुलिस सेवा के 20 अफसरों को पुलिस निरीक्षक से पुलिस उपाधीक्षक के पद पर पदोन्नत करने के बाद पदस्थापित किया है. इनके साथ ही 4 उपाधीक्षकों के तबादले भी किए गए हैं.

Tuesday, 23 September 2008

दो आईएएस के तबादले

राज्य सरकार ने मंगलवार को एक आदेश जारी करके भारतीय प्रशासनिक सेवा के दो अफसरों के तबादले किए हैं.इनमें परविंदरसिंह को अब कार्मिक विभाग का ही प्रमुख शासन सचिव बना दिया गया है.वे पहले अस्थायी तौर पर इस पद का काम देख रहे थे.हालांकि वे कई बार इस पद पर नहीं रहने की इच्छा जाहिर कर चुके थे.लेकिन अब वे इसी पद पर कायम रह गए हैं.हाल ही केन्द्र में प्रतिनियुक्ति काटकर लौटे ए.मुखोपाध्याय को खाद्य, नागरिक आपूर्ति और उपभोक्ता मामले विभाग का प्रमुख सचिव बनाया गया है.

Monday, 22 September 2008

छह आईपीएस बदले

राज्य सरकार ने सोमवार को एक आदेश जारी करके भारतीय पुलिस सेवा के छह अफसरों के तबादले किए हैं. इनमें एम.सी.मीणा को पुलिस दूर संचार में महानिरीक्षक,पी.एस.चूडावत को डीआईजी कानून-व्यवस्था जयपुर, हरिराम मीणा को डीआईजी पुलिस प्रशिक्षण जयपुर, रविकांत मित्तल को कमांडेंट पांचवी बटालियन आरएसी जयपुर, पी.रामजी को एस.पी.कोटा ग्रामीण और डी.एस. चूडावत को एस.पी. एसीबी उदयपुर लगाया गया है.इनमें गुर्जर आंदोलन के दौरान दौसा में विवादित रहे एस.पी.पी.रामजी का सवा महीने में दूसरी बार तबादला किया गया है.

Saturday, 20 September 2008

जयपुर डेयरी के एम.डी.निलंबित

जयपुर को-ऑपरेटिव डेयरी के प्रबंध निदेशक डॉ।आर.एस.तोमर को तत्काल प्रभाव से निलबिंत कर दिया गया है.तोमर पर महंगी चीनी खरीदने और डीलरों को अत्यधिक मात्रा में घी देकर डेयरी को लाखों रुपए का नुकसान पहुंचाने का आरोप है. डीलरों ने बाजार में अन्य ब्रांडों का घी महंगा होने के कारण सरस को रीपैकिंग करके बेच दिया था.इसमें रोचक तथ्य यह है कि राजस्थान को-ऑपरेटिव डेयरी फैडरेशन के प्रबंध निदेशक मधुकर गुप्ता ने अपना तबादला होने के एक दिन बाद तौमर को निलंबित किया है.

Thursday, 18 September 2008

निलंबित आरएएस को बसपा ने बनाया उम्मीदवार

राजस्थान प्रशासनिक सेवा के निलंबित अधिकारी रतन विश्नोई को बहुजन समाज पार्टी (बसपा) ने जोधपुर जिले के फलौदी से अपना उम्मीदवार बनाया है.विश्नोई ने हालांकि नौकरी से इस्तीफा दे दिया था. लेकिन उनका इस्तीफा सरकार ने इसलिए स्वीकार नहीं किया है क्योंकि उनके खिलाफ आपराधिक जांच लंबित है.विश्नोई को पोकरण में एसडीएम रहते हुए सर्किट हाउस में रिश्वत लेते हुए पकड़े जाने का मामला दर्ज हुआ था.

असवाल ने भाजपा ज्वाइन की

राजस्थान प्रशासनिक सेवा के अधिकारी रहे श्री किशोर असवाल ने भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता ले ली है.भाजपा के शहर अध्यक्ष राघव शर्मा ने बुधवार को सदस्यता दिलाई.

Wednesday, 17 September 2008

नौ आईपीएस बदले

राज्य सरकार ने बुधवार को एक अन्य आदेश से भारतीय पुलिस सेवा के 9 अफसरों को भी बदला है.इनमें रामफल सिंह को आईजी आरेसी जयपुर, सौरभ श्रीवास्तव को डीआईजी एटीएस जयपुर, मधुसूदनसिंह को डीआईजी कार्मिक जयपुर,संजीव कुमार नर्जरी को एस.पी. मुख्यालय जयपुर, जी.एन. पुरोहित को एस.पी. नार्थ जयपुर, डॉ. बी.एल. मीणा को एस.पी.टोंक,के.बहादुर कपूर को एस.पी. दौसा, एच.जी. राघवेन्द्र सुहासा को एस.पी. बांसवाड़ा और गौरव श्रीवास्तव को एस.पी. एटीएस जयपुर लगाया गया है.

सात आईएफएस बदले

राज्य सरकार ने बुधवार को एक आदेश जारी कर भारतीय वन सेवा के सात अफसरों के तबादले किए हैं.इनमें मोतीलाल मीणा को मुख्य वन संरक्षक कोटा, अनिल कुमार गोयल को मुख्य वन संरक्षक जयपुर, महेन्द्र कुमार कुरील को मुख्य वन संरक्षक आयोजना एवं वन जयपुर,निहालचंद जैन को मुख्य वन संरक्षक (वन्यजीव) जयपुर, अजय कुमार सिंह को मुख्य वन संरक्षक प्रोजेक्ट जयपुर, दीपक भटनागर को कार्यकारी निदेशक ग्रामीण अकृषि क्षेत्र विकास प्राधिकरण जयपुर और ओम प्रकाश सिंह को अतिरिक्त आयुक्त जनजाति क्षेत्रीय विकास उदयपुर में लगाया गया है. इनमें निहालचंद जैन, अजय कुमार सिंह, दीपक भटनागर, ओमप्रकाशसिंह को मुख्य वन संरक्षक की शृंखला में पदोन्नत किया गया है.

Tuesday, 16 September 2008

सात आईएएस के तबादले

राज्य सरकार ने एक आदेश जारी कर भारतीय प्रशासनिक सेवा के सात अफसरों के तबादले किए हैं. इनमें हाल ही केन्द्र में प्रतिनियुक्ति से लौटे प्रदीप सेन को खेलकूद एवं युवा मामलात विभाग में प्रमुख शासन सचिव,जे.सी.मोहंति को परिवहन विभाग में आयुक्त, मधुकर गुप्ता को कोटा में संभागीय आयुक्त, वीनू गुप्ता को वित्त विभाग में सचिव,जे.पी.चंदेलिया को भू-जल विकास एवं मृदा संरक्षण विभाग में निदेशक, महावीरसिंह को स्थानीय निकाय विभाग में आयुक्त और अम्बरीश कुमार को राजस्व विभाग में शासन उप सचिव लगाया गया है. परिवहन आयुक्त का पद जगदीशचंद के स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति लेकर ईटीवी ज्वाइन करने से खाली हुआ था.इस पद पर लगने के लिए स्वायत्त शासन सचिव डॉ.मंजीतसिंह, जलदाय सचिव विनोद कपूर और खेलकूद विभाग के सचिव मोहंति दौड़-भाग कर रहे थे.इनमें मोहंति बाजी मार ले गए. स्वायत्त शासन सचिव मंजीतसिंह एक बार फिर पुराने पद पर ही रह गए हैं. राजस्थान कोऑपरेटिव डेयरी फैडरेशन के एमडी मधुकर गुप्ता को चेयरमैन ओम पूनिया से छत्तीस का आंकड़ा होने के कारण हटाया गया है. जे.पी.चंदेलिया,महावीर सिंह और अम्बरीश कुमार को एक तरह से ठंड की पोस्ट पर लगाया गया है. भू-जल संरक्षण विभाग में कोई ज्यादा काम नहीं है.स्थानीय निकाय विभाग का पद अब तक आरएएस कैडर का रहा है. अम्बरीश कुमार को राजस्व विभाग में शासन उप सचिव के पद पर लगाया गया है.इस पद पर अब तक आरएएस ही लगते रहे हैं.इस सूची के बाद एमडी डेयरी फैडरेशन और स्कूल शिक्षा सचिव का पद खाली हो गया है.आवासन आयुक्त को हटाने की अटकलें निराधार साबित हुई हैं. माना जा रहा है कि आईएएस की एक तबादला सूची और आ सकती है.

मालोविका विदेश यात्रा पर

सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग की प्रमुख सचिव मालोविका पंवार 22 सितंबर से 10 अक्टूबर तक विदेश यात्रा पर जा रही हैं. उनका कार्यभार सामाजिक न्याय आयुक्त आलोक को सौंपा गया है.

Friday, 12 September 2008

अखिल अरोड़ा को डीएलबी से हटाया

मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने आईएएस अखिल अरोड़ा को स्थानीय निकाय विभाग के आय़ुक्त पद से हटा दिया है.इस पद का कार्यभार अब स्वायत्त शासन सचिव डॉ. मंजीतसिंह को सौंपा गया है.अरोड़ा अब केवल जयपुर नगर निगम में मुख्य कार्यकारी अधिकारी ही रहेंगे.अरोड़ा को हटाने का कारण उन पर मुख्यमंत्री की गहरी नाराजगी मानी जा रही है. पिछले दिनों आमेर में अतिक्रमण नहीं हटाने को लेकर मुख्यमंत्री उन पर काफी नाराज हुई थीं.चूंकि अरोड़ा दो पदों का काम देख रहे थे.उनसे बेहतर परिणामों की अपेक्षा में एक पद का भार कम किया गया है.

आईएएस सुभाष गर्ग केन्द्र में जाएंगे

राजस्थान कैडर के वरिष्ठ आईएएस अधिकारी श्री सुभाष गर्ग प्रतिनियुक्ति पर केन्द्र में जाएंगे.उनकी प्रतिनियुक्ति पर गुरुवार को मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने मुहर लगा दी.गर्ग इस वित्त विभाग में प्रमुख शासन सचिव के पद पर कार्यरत हैं. हाल ही राज्य में छठा वेतन आयोग लागू करने से राजकोष पर 13000 करोड़ रुपए से ज्यादा का भार पड़ा है.गर्ग खुद स्वीकार करते हैं कि नई सरकार को काफी आर्थिक संकट का सामना करना पड़ सकता है. संभवतः इसी कारण गर्ग भी यहां से केन्द्र में जा रहे हैं.

Tuesday, 9 September 2008

सांचोर एसडीएम निलंबित

कामिर्क विभाग ने एक आदेश जारी करके सांचोर के एसडीएम मूलाराम चौधरी को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है.इन्हें जिला कलेक्टर की रिपोर्ट पर निलंबित किया गया है.इसके पीछे कहानी यह है कि बॉडर्र पर जमीनें बिकने के मामले की एसडीएम मूलाराम चौधरी जांच कर रहे थे. जांच में पता चला कि बॉर्डर पर जमीनें बिकवाने में भाजपा के लोग सम्मिलित थे.इन लोगों ने अनुसूचित जाति,जनजाति के भूमिहीन किसानों की जमीनें हड़पी थीं.इन्हें गहलोत सरकार ने जमीनें आवंटित की थीं.

आरएएस बी.एल.मीणा निलंबित

राज्य सरकार ने राजस्थान प्रशासनिक सेवा के अधिकारी बी.एल.मीणा को प्रारंभिक जांच के बाद निलंबित कर दिया है.मीणा पर आरोप है कि उन्होंने अलवर नगर सुधार न्यास में सचिव पद पर रहते हुए एक जमीन की 90 बी करने के बजाय उन्होंने सीधे पट्टे ही काट दिए थे.

आईजी लक्ष्मण मीणा एडीजी बने

सीआईडी सीबी के पुलिस महानिरीक्षक लक्ष्मणलाल मीणा को अब रेलवे में अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक बनाया गया है.राज्य सरकार ने उन्हें हाल ही भारतीय पुलिस सेवा की सुपर टाइम से ऊपर वाली वेतन शृंखला में पदोन्नत किया है. मीणा बस्सी विधानसभा क्षेत्र से टिकट भी मांग रहे हैं.

ग्यारह आरएएस फिर बदले

राज्य सरकार ने मंगलवार को एक आदेश जारी कर राजस्थान प्रशासनिक सेवा के 11 अफसरों के फिर तबादले किए है.इनमें रामनिवास मीणा को परिवहन विभाग में अतिरिक्त आयुक्त, शिव कुमार अग्रवाल को महिला एवं बाल पोषाहार विभाग में अतिरिक्त निदेशक, हेमंत शेष को जल संसाधन विभाग में उप सचिव, महेन्द्र सोनी को नगरीय विकास एवं स्वायत्त शासन विभाग में उप सचिव, दुर्गा जोशी को जेडीए में भूमि अवाप्ति अधिकारी, महेन्द्रसिंह को आवासन मंडल जयपुर में सचिव, बद्रीनारायण को राजस्व विभाग में उप सचिव, प्रकाशचंद पवन को कोटा में अतिरिक्त जिला कलेक्टर, राजेन्द्र विजय को जेडीए में उपायुक्त, हेमंत कुमार सेठ को जोधपुर में सहायक भू प्रबंध अधिकारी और सुनीता डागा को सामान्य प्रशासन विभाग जयपुर में प्रोटोकॉल अधिकारी लगाया गया है.

लेखा सेवा के दो अफसर बदले

वित्त विभाग ने मंगलवार को एक आदेश जारी कर लेखा सेवा के दो अफसरों के तबादले किए हैं.इनमें मोडीलाल टेलर को राज्य खान एं खनिज विभाग उदयपुर में वित्तीय सलाहकार और छगनलाल गुप्ता को गौ सेवा आयोग जयपुर में लेखाधिकारी लगाया गया है.

आनंद मोहन का तबादला निरस्त

भारतीय वन सेवा के अधिकारी आनंद मोहन का भरतपुर में उप वन संरक्षक के पद पर किया गया तबादला निरस्त कर दिया गया है.वे अभी तक बारहवें वित्त आयोग के तहत मिशन निदेशक के पद पर कार्यरत हैं.

सिद्दीकी पदोन्नत

सार्वजनिक निर्माण विभाग में कायर्रत वरिष्ठ निजी सहायक सलीमुद्दीन सिद्दीकी को निजी सचिव के पद पर पदोन्नत किया गया है. वे अब वित्तीय सलाहकार के निजी सचिव होंगे.

Monday, 8 September 2008

मुख्य सचिव के लिए दौड़-भाग शुरू

राजस्थान के नए मुख्य सचिव के लिए अफसरों ने भाग-दौड़ शुरू हो गई है.इस दौड़ में अतिरिक्त मुख्य सचिव ए.के. पांडेय और परमेशचंद्र इस दौड़ में आगे हैं.राज्य सरकार मौजूदा मुख्य सचिव डी.सी.सामंत को राज्य विद्युत नियामक आयोग का चेयरमैन अथवा राज्य चुनाव आयोग का आयुक्त बनाना चाहती है.पांडेय और परमेशचंद्र 1973 बैच के अधिकारी हैं.इनमें पांडेय के मुख्य सचिव बनने के ज्यादा आसार हैं.वे पहले भी मुख्य सचिव की दौड़ में थे, लेकिन तब डी.सी.सामंत को मुख्य सचिव बना दिया गया था.

सहायक निदेशक निलंबित

उद्योग विभाग ने सोमवार को एक आदेश जारी कर जयपुर स्थित मुख्यालय के सहायक निदेशक राजीव गर्ग को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है. गर्ग के खिलाफ विभाग में कई गंभीर मामले विचाराधीन हैं जिनमें उन पर अनुशासनात्मक कार्रवाई हो सकती है.गर्ग का मुख्यालय सिरोही रखा गया है.

भारतीय वन सेवा के दो अफसर बदले

राज्य सरकार ने सोमवार को एक आदेश जारी कर भारतीय वन सेवा के दो अफसरों ए.एस. कुम्पावत और अजय गुप्ता के तबादले किए हैं.इनमें कुम्पावत को बूंदी में और गुप्ता को पाली में उप वन संरक्षक बनाया गया है.

Sunday, 7 September 2008

आरएएस की तबादला सूची पर चुनाव आयोग की आपत्ति

राज्य सरकार की ओर से शनिवार को जारी की गई 102 आरएएस अफसरों की तबादला सूची पर राज्य चुनाव विभाग ने कड़ी आपत्ति की है.मुख्य निर्वाचन अधिकारी विनोद जुत्शी ने कहा है कि राज्य सरकार को तबादले करने से पहले चुनाव आयोग की अनुमति लेनी चाहिए थी.इस सूची में चुनाव प्रक्रिया से जुड़े कई ऐसे अधिकारियों के तबादले कर दिए हैं जो उप जिला निर्वाचन अधिकारी लगे हुए थे.चुनाव विभाग की आपत्ति के बाद आरएएस अफसरों में सरकार की कार्य प्रणाली को लेकर काफी चर्चा है.

Saturday, 6 September 2008

तीन आईपीएस अफसर पदोन्नत

भारतीय पुलिस सेवा के तीन अफसरों को राज्य सरकार ने अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक के पद पर पदोन्नत किया है। पदोन्नत होने वाले अफसरों में अजीतसिंह, के.के. शर्मा और लक्ष्मण मीणा हैं.ये तीनों ही अधिकारी आईजी स्तर के हैं. मुख्य सचिव डी.सी.सामंत की अध्यक्षता में शनिवार को हुई स्क्रीनिंग कमेटी की बैठक में 1982 बैच के इन अधिकारियों को सुपर टाइम से ऊपर की वेतन शृंखला देने का फैसला किया गया.अजीत कुमार सिंह अभी स्टडी लीव पर चल रहे हैं.के.के.शर्मा अभी इंडियन एयर लाइंस नईदिल्ली में मुख्य सतर्कता अधिकारी हैं जबकि लक्ष्मण मीणा सीआईडी सीबी,विशेष अपराध एवं आर्थिक मामलात के पुलिस महानिरीक्षक हैं और जयपुर में पदस्थापित हैं.

Friday, 5 September 2008

आरएएस फतेहराय सोनी एपीओ

राज्य प्रशासनिक सेवा के अधिकारी श्री फतेहराय सोनी को तत्काल प्रभाव से एपीओ कर दिया गया है.सोनी माध्यमिक शिक्षा विभाग बीकानेर में अतिरिक्त निदेशक थे. सरकार ने पहले उनके निलंबन की तैयारी कर ली थी,लेकिन बाद में उन्हें एपीओ ही करने का फैसला किया गया.सोनी पिछले दिनों लालबत्ती की गाड़ी में पेट्रोल भरवाकर बिना पैसे दिये ही चले जाने के प्रकरण से चर्चा में आए थे.विभाग की अनुमति के बिना बी.एड.कॉलेजों के निरीक्षण करने के मामले में भी चर्चित रहे हैं.

Thursday, 4 September 2008

बड़ा प्रशासनिक फेरबदल शीघ्र

राजस्थान में जल्दी ही बड़ा प्रशासनिक फेरबदल होने की संभावना है.चुनाव आचार संहिता को देखते हुए मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे आईएएस, आईपीएस और आरएएस अधिकारियों की बड़ी सूचियां निकालने के मूड में हैं.आईएएस में कई पद खाली पड़े हैं तो कुछ अफसर केन्द्र से लौट रहे हैं.इनमें हाउसिंग बोर्ड कमिश्नर, स्वायत्त शासन एवं स्थानीय निकाय विभाग के सचिव सहित कई अफसर बदले जाएंगे, वहीं परिवहन आयुक्त का अतिरिक्त चार्ज खेल सचिव जे.सी. मोहंति को दिए जाने की संभावना है.इनके साथ ही हाल ही सुपरटाइम में पदोन्नत किए गए अफसरों को भी बदले जाने की संभावना है.आईपीएस अफसरों में भी आईजी, डीआईजी और कई जिलों के एस.पी. बदले जाने की संभावना है.इसी तरह आरएएस में भी कई अफसर एपीओ चल रहे हैं,इनके साथ ही जयपुर के एडीएम के.एल. अग्रवाल, ओ.पी गुप्ता और डीएसओ वी.पी.सिहं सहित कई अफसरों के बदले जा सकते हैं.तबादला सूचियां एक-दो दिन में ही जारी होने की संभावना है.

Tuesday, 2 September 2008

एक आरपीएस एपीओ,दो के तबादले

राज्य सरकार ने बीकानेर में सीआईडी सीबी रेंज सेल के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक लक्ष्मीनारायण को तुरंत प्रभाव से एपीओ कर दिया है.उनकी जगह पर रामगोपाल विश्नोई को लगाया गया है.इसी तरह डीवाईएसपी सत्यपाल मिड्ढा को श्रीगंगानगर सीआईडी जोन मुख्यालय पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक के पद पर लगाया गया है.ये सभी राजस्थान पुलिस सेवा के अधिकारी हैं.

Monday, 1 September 2008

आईपीएस अफसर भी टिकट की लाइन में

भारतीय पुलिस सेवा के वरिष्ठ अधिकारी श्री लक्ष्मण मीणा भी इस बार बस्सी विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़ने के मूड में हैं.हालांकि अभी तक उन्होंने आधिकारिक तौर पर सेवानिवृत्ति नहीं मांगी है,लेकिन मुख्यमंत्री ने उन्हें वीआरएस लेने की सलाह दी है.बस्सी इस बार अनुसूचित जनजाति के लिए आरक्षित है और मीणा इस सीट पर अपनी जीत के प्रति पूरी तरह आश्वस्त हैं.अभी यहां से कन्हैयालाल मीणा विधायक हैं.सत्ता विरोधी लहर में उनके इस बार जीतने की संभावना कम है.